विधानसभा चुनाव से पहले शिवराज सरकार का तोहफा, MP में अब होगी रिटायरमेंट की उम्र 62 वर्ष

Free Twitter Followers

भोपाल: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश के कर्मचारियों को खास तोहफा दिया है। राज्य सरकार ने रिटायरमेंट की उम्र को बढ़ाकर 60 से 62 वर्ष कर दिया है। सामान्य वर्ग से आने वाले कर्मचारियों को फायदा पहुंचाने के लिए यह कदम उठाया गया है। सरकारी कर्मचारियों की पदोन्नति में आरक्षण की व्यवस्था के कारण सामान्य वर्ग के कर्मचारी पदोन्नति से वंचित रह जाते हैं, इस बात को ध्यान में रखकर मध्य प्रदेश सरकार ने सेवानिवृत्ति की आयु 60 वर्ष से बढ़ाकर 62 वर्ष कर दी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने एक होटल में प्रेस से मुलाकात करते हुए इस बात की घोषणा की। ‘प्रेस से मिलिए’ कार्यक्रम के दौरान चौहान ने कहा कि राज्य सरकार वरिष्ठता के मुताबिक मिलने वाली पदोन्नति का लाभ हर कर्मचारी को देना चाहती है। इसे ध्यान में रखते हुए सेवानिवृत्ति की आयु में दो वर्ष की बढ़ोत्तरी का फैसला लिया है। लिहाजा अब कर्मचारी 60 नहीं बल्कि 62 वर्ष की आयु में सेवानिवृत्त होंगे।

शिवराज सिंह ने आगे कहा कि कई बार कर्मचारी अपने सेवाकाल की समय सीमा में पदोन्नति का लाभ हासिल नहीं कर पाते हैं और सेवानिवृत्त हो जाते हैं। लिहाजा सरकार ने तय किया है कि कर्मचारियों को उनका हक मिले इसलिए सेवानिवृत्ति की आयु में दो साल का इजाफा किया जा रहा है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इस दौरान राज्य में महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा का संकल्प एक बार फिर दोहराया और कहा कि मनचलों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here